Explained National

मीडिया में प्रकाशित आम आदमी पार्टी पर लगे कथित घोटालों की लिस्ट

Kejriwal government corruption allegations

आम आदमी पार्टी के मुखिया और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने राजनीति में आने से पहले राजनीति बदलने की कसम खाई थी, लेकिन किसी को पता नहीं था कि केजरीवाल जनता के नाम पर अपने काम साधने में जुट जाएंगे। ये हम नहीं कह रहे हैं, बल्कि अरविंद केजरीवाल पर आरोप और घोटालों की फेहरिस्त कह रही हैं जिसकी चर्चा मीडिया में खूब हुई है। मीडिया के जरिये हम नजर डालते हैं केजरीवाल सरकार पर घोटालों के आरोपों पर। पहले बात करते हैं घोटाले के ताजा खुलासे की।

BJP सांसद मनोज तिवारी का दावा- CM केजरीवाल और सिसोदिया ने किया घोटाला

भारतीय जनता पार्टी की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया पर बड़ा आरोप लगाया है। मनोज तिवारी ने एक आरटीआई का हवाला देते हुए केजरीवाल सरकार पर शिक्षा के नाम पर 2000 करोड़ रुपये का घोटाला करने का आरोप लगाया है। एक आरटीआई से पता चला है कि स्कूलों में कमरों के निर्माण के लिए अतिरिक्त 2000 करोड़ रुपये दिए गए थे, जो केवल 892 करोड़ रुपये में बनाए जा सकते थे। जिन 34 ठेकेदारों को टेंडर दिए गए उनमें उनके रिश्तेदार शामिल हैं। मीडिया ने इस खबर को प्रमुखता दी है।

केजरीवाल सरकार के 325 करोड़ के राशन कार्ड घोटाले की खबर

दिल्ली में राशन वितरण के लिए तीन माह तक चलाई गईं ई-पॉस मशीनों से 325 करोड़ का घोटाला सामने आया था। साल 2013 के अंत में ही राष्ट्रीय खाद्द सुरक्षा अधिनियम के तहत राशन कार्ड बनाने का काम शुरू हुआ था। इन राशन कार्डों के जरिए लोगों को दी जाने वाली खाद्दान सामग्री के भाव के हिसाब से आंकलन करने पर यह राशि लगभग 324 करोड़, 87 लाख, 44 हजार रुपये की बैठती है।

एबीपी न्यूज पर केजरीवाल के साढ़ू पर लगे घोटाले के आरोपों की खबर

दिल्ली के बकौली गांव में एक नाला केजरीवाल के लिए मुसीबतें खड़ी कर गया था। इस नाले को केजरीवाल के रिश्तेदार सुरेंद्र बंसल की कंपनी ने बनाया था। केजरीवाल के साढ़ू सुरेंद्र बंसल की कंपनी रेणू कंस्ट्रक्शन पर कई आरोप लगे हैं। शिकायतकर्ता राहुल शर्मा ने बताया था कि पीडब्लूडी से नाले का ठेका लिया गया और फिर फर्जी बिल लगाए गए।

 

PWD घोटाला: ACB ने केजरीवाल के रिश्तेदार विनय बंसल को किया गया था गिरफ्तार

दिल्ली के PWD घोटाला मामले में एंटी करप्‍शन ब्‍यूरो (ACB) ने मई 2018 में अरविंद केजरीवाल के रिश्तेदार विनय बंसल को गिरफ्तार किया था। विनय बंसल केजरीवाल के साढू सुरेंद्र बंसल के बेटे हैं। सुरेंद्र बंसल की मौत हो गई थी। भ्रष्टाचार के इस मामले में 8 मई 2017 को एसीबी में FIR दर्ज की गई थी। गौरतलब है कि एसीबी को शिकायत मिली थी कि सुरेंद्र बंसल ने रेणु कंस्ट्रक्शन कंपनी के नाम पर PWD में फर्जीवाड़ा किया गया था।

AAP ने किया मोहल्ला क्लीनिक में भी घोटाला ?

एबीपी न्यूज के अनुसार दिल्ली में आम आदमी मोहल्ला क्लीनिक वैसे तो लोगों की सुविधाओं के लिए बनाया गया था, लेकिन मोहल्ला क्लीनिक की हालत ही ठीक नहीं थे। विजिलेंस विभाग इसमें धांधली की जांच कर रहा है। विजिलेंस की जांच का दायरे में दो मुख्य आरोप थे।

मोहल्ला क्लीनिक परिसर का किराया बाजार किराए से ज्यादा क्यों है?

पार्टी कार्यकर्ताओं के परिसर किराए पर क्यों लिए गए?

इन्हीं सवालों के बाद एबीपी न्यूज ने कुछ मोहल्ला क्लीनिक की पड़ताल की। पड़ताल में पता चला कि कार्यकर्ता अपने मकान को बाजार दर से दो से तीन गुना ज्यादा किराये पर मोहल्ला क्लीनिक को दिए हुए हैं। इस तरह से मोहल्ला क्लीनिक खोलने में आम आदमी पार्टी के नेताओं को जमकर फायदा पहुंचाया गया।

मनीष सिसोदिया ने रिश्तेदारों को दिलाए सरकारी विज्ञापनों के कॉन्ट्रेक्ट?, दिए गए थे जांच के आदेश

केजरीवाल सरकार बनते ही 2015 में इस घोटाले की खबर ने सबको स्तब्ध कर दिया। दिल्ली सरकार की ओर से दिए जा रहे विज्ञापनों में धांधली का आरोप लगा।

एसीबी को मिली जानकारी के मुताबिक सरकार द्वारा विज्ञापन देने के मामले में नियमों को ताक पर रखकर केजरीवाल सरकार के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के रिश्तेदारों को फायदा पहुंचाया गया।

Zee न्यूज के DNA शो में दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार पर लगे विज्ञापन घोटाले के गंभीर आरोप

आरोप था कि दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार ने अपना राजनीतिक प्रभाव और कद दूसरे राज्यों में बढ़ाने के लिए दिल्ली के टैक्स पेयर्स के पैसे का दुरुपयोग किया। ये घोटाला उस वक्त हुआ था, जब दिल्ली सरकार ने डिजिटल मीडिया पर एक पब्लिसिटी कम्पेन शुरू किया था। जिसका नाम था ‘Talk To AK’।

हमने समय समय पर मीडिया में केजरीवाल सरकार पर प्रकाशित कथित घोटालों की एक सूची यहां रखी है। सभी तथ्यों को खबर के मूल स्रोत के साथ लिंक भी किया है। पाठक, उन लिंक पर क्लिक करके विस्तार से पढ़ सकते है।

Share